कोरोना से जंग हारी स्वर कोकिला लता मंगेशकर, 94 साल की उम्र में हुआ निधन, जानिए उनसे जुड़ी दिलचस्प बातें

स्वर कोकिला लता मंगेशकर अब हमारे बीच नहीं रही है। 92 साल की उम्र में उन्होंने दुनिया को अलविदा कह दिया है। दरअसल भारत रत्न लता मंगेशकर का कई दिनों से कोरोना का इलाज मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में चल रहा था। इन्होंने अपनी आवाज से हर दिलों पर राज किया था। वहीं पांच दशक तक हिंदी सिनेमा में अपनी आवाज दी थी। बता दें कि कोरोना की वजह से अस्पताल में भर्ती कराया गया था तब से ही उनका इलाज जारी था।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि लता मंगेशकर के लिए कई जगह उसके स्वास्थ्य होने के लिए महामृत्युजंय का जाप भी किया गया था, लेकिन इसके बाद भी वहां हमारे बीच नहीं रह पाई है। लता मंगेशकर का कोरोना की चपेट में आने के बाद मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में इलाज चल रहा था। 5 फरवरी को उनकी तबीयत अचानक और ज्यादा खराब हो गई थी जिसके बाद उन्हें फिर से वेंटिलेटर सपोर्ट पर रखा गया। डॉक्टरों ने उन्हें काफी बचाने का प्रयास किया लेकिन 6 फरवरी को उनका निधन हो गया।

13 साल की उम्र से की करियर की शुरूआत

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि लता मंगेशकर ने 13 साल की उम्र से अपने करियर की शुरुआत की थी। उन्होंने कई भाषाओं में 30 हतार से ज्यादा गाने अपने करियर में गाये है। लता मंगेशकर को सुर साम्राज्ञी के नाम से भी जाना जाता है। इसके साथ ही उन्हें भारत रत्न से भी नावाजा जा चुका है। वहीं उन्हें पद्म भूषण, और पद्म विभूषण और दादा साहेब फाल्के आवार्ड भी मिल चुका है।

इन दिग्गजों ने दी लता को श्रद्धांजलि

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि लता मंगेशकर के निधन के बात बॉलीवुड ​इंस्ट्री से लेकर हर क्षेत्र में शोक की लहर है। लता के निधन के बाद उन्हें दुनियाभर के दिग्गजों ने शोक जताते हुए श्रद्धांजलि दी है। इसके साथ ही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी अपने ट्वीटर अकाउंट पर लता की तस्वीरें शेयर करते हुए उन्हें श्रद्धांजलि दी है। इसके साथ ही केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने भी लिखा है कि उनका जाना देश के लिए अपूरणीय क्षति है।