होली पर पानी बचाने के संदेश पर शिवराज के इस मंत्री का बड़ा बयान, सुनकर आप भी रह जायेंगे हैरान

देशभर में होली का पर्व धूमधाम से मनाया जा रहा है और लोग एक दूसरे को रंग और गुलाल लगाकर होली की शुभकामनाएं दे रहे है। इसी बीच मध्य प्रदेश के चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग का बड़ा ही अटपटा बयान सामने आया है। राजधानी भोपाल में मीडिया से चर्चा के दौरान मंत्री विश्वास सारंग ने होली में पानी बचाने के संदेश को लेकर विचित्र बयान दिया है। उनका कहना है कि यह संदेश सिर्फ हिंदू धर्म के त्योहारों पर ही पर्यावरण की बात कर फैलाया जा रहा है। जबकि दूसरे ऐसे कई पर्व है जिस पर इस तरह की बातें नहीं की जाती है।

दरअसल चिकित्सा शिक्षा मंत्री विश्वास सारंग राजधानी भोपाल में होली के पर्व पर प्रदेशवासियों को शुभकामनाएं दी। इसके साथ ही मीडिया से चर्चा के दौरान उन्होंने पानी बचाने के संदेश पर बड़ा विचित्र बयान दे दिया है। उन्होंने कहा कि इस तरह का संदेश युवाओं को हिंदू त्योहारों से दूर करने का एक षड्यंत्र रचा जा रहा है। खास बात यह है कि जिन मंत्री ने इस तरह का बयान दिया वह खुद शिवराज कैबिनेट के चिकित्सा शिक्षा मंत्री हैं। जिनके बयान से प्रदेश की सियासत में उबाल आ गया।

होली पर ही क्यों की जाती है ऐसी बातें- सारंग

उन्होंने कहा कि होली पर पानी बचाने का जो संदेश दिया है। वहां काम नहीं आएगा। यह होली पर पानी बचाने की बात करते हैं लेकिन गाड़ी को चमकाने में ना जाने कितने लीटर पानी 1 दिन में बर्बाद हो जाता है। उनको भी बताना चाहिए कि हमारे तीज और त्योहार पर इस तरह की बात क्यों की जाती है। मंत्री विश्वास सारंग का कहना इस तरह के संदेश से परंपरा के साथ कुठाराघात करना आने वाली पीढ़ियों के साथ कुठाराघात है। तीज त्यौहार पर ऐसी बातें क्यों आती है। इस तरह से त्योहारों पर लोगों द्वारा हिंदू तीज त्योहारों पर कुठाराघात क्यों किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि होली सिर्फ त्यौहार नहीं है यह एक रूपता का संदेश देने वाला त्यौहार है।

गौरतलब है कि 18 मार्च को देश भर में होली का पर्व मनाया जा रहा है। वहीं सोशल मीडिया पर भी पानी को बचाने को लेकर कई तरह के संदेश वायरल हो रहा है। वायरल होने के बाद अब मंत्री विश्वास सारंग ने इस तरह का बयान दिया है। जिससे सियासत हलचल तेज हो गई है वही आने वाली रंग पंचमी के पर्व पर भी काफी लीटर पानी बर्बाद होगा।