MP: मुख्यमंत्री शिवराज सिंह ने किसानों के लिए की घोषणा, समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी के लिए जारी किए नए दिशा निर्देश

मध्य प्रदेश के किसानों के लिए मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बड़ी घोषणा की है। दरअसल मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गुरुवार को मंत्रालय में एक बैठक का आयोजन किया। जिसमें उन्होंने गेहूं उपार्जन और भंडारण धान के निस्तारण के लिए अधिकारियों कर्मचारियों को जरूर निर्देश दिए है। मुख्यमंत्री ने कहा की गेहूं और अन्य फसलों की समर्थन मूल्य में खरीदी में तेजी लाई जाए। इसके साथ धान की मिलिंग के संबंध में जल्द से जल्द कार्य को पूरा करने के निर्देश दिए है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मध्य प्रदेश में समर्थन मूल्य पर गेहूं खरीदी के लिए स्लॉट बुकिंग करानी होगी जो 23 मार्च से शुरू की जायेगी।

23 मार्च से शुरू होगा स्लॉर्ट बुक

दरअसल मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गेहूं खरीदी के लिए पहले ही s.m.s. की सुविधा को खत्म कर दी थी। अब किसानों से गेहूं समर्थन मूल्य पर खरीदा जाएगा। इसके लिए उन्हें उपार्जन पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन कराना होगा। इसके साथ ही 23 मार्च से स्लॉट बुकिंग किया जाएगा। वहीं हर दिन न्यूनतम 1000 क्विंटल की जाने की बात कहीं है। वहीं अगर इसमें ज्यादा गेहूं की आवक होती है तो तोल कांटो की संख्या बढ़ा दी जाएगी।

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि किसानों को अपनी गेहूं खरीदी के लिए गेहूं उपार्जन केंद्र पर बायोमेट्रिक सत्यापन कराना अनिवार्य होगा। पंजीयन की व्यवस्था के साथ-साथ बायोमेट्रिक सत्यापन के साथ गेहूं खरीदी की जाएगी। वहीं स्लॉट बुकिंग की प्रक्रिया 23 मार्च से शुरू होगी। इसके लिए एक वेबसाइट जारी की है जिस पर जाकर वहां आसानी से स्लॉट बुक करा सकता है इसके साथ ही जिन किसानों को इस में समस्या आ रही है वहां आसानी से अपने नजदीकी उपार्जन केंद्र पर जाकर स्लॉट बुक करा सकता है।

गेहूं खरीदी के लिए 2 पारियों में होगी स्लॉट बुकिंग

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि किसानों द्वारा स्लॉट बुकिंग करने के बाद उपार्जन केंद्र के नाम विक्रय योग्य एवं मात्रा सहित विक्रय के दिन s.m.s. के माध्यम से उन्हें सूचित किया जाएगा। जिसका प्रिंट भी किसानों द्वारा निकाला जा सकता है। वहीं स्लॉट बुकिंग दो पारियों में की जाएगी। पहली पारी में सुबह 9:00 बजे से 1:00 बजे तक होगी। वहीं दूसरी पारी 2:00 बजे से शाम 6:00 बजे तक चलेगी। इसमें किसान ग्राम पंचायत लोक सेवा केंद्र मोबाइल से सीएसपी समेत अन्य जगह पर जाकर स्लॉट बुकिंग करवा सकते हैं। बुकिंग होने के बाद किसानों को एक ऑटो पर भेजा जाएगा जिसे पोर्टल पर दर्ज करने पर लोड बुकिंग का s.m.s. प्राप्त हो जाएगा।

इसके साथ ही मुख्यमंत्री ने यह स्पष्ट कर दिया है कि सोमवार से शुक्रवार तक गेहूं उपार्जन का काम किया जाएगा। वहीं स्लॉट बुकिंग कराने से 3 दिन तक कि इसकी वैधता मानी जाएगी। इसके बाद अगर किसान अपनी गेहूं को बेचना चाहेगा तो वहां नहीं बेच पाएगा। इसके बाद उसे दोबारा से स्लॉट बुकिंग कराना होगा। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अधिकारियों को सख्त निर्देश देते हुए कहा कि गेहूं खरीदी में किसी भी तरह की कोई कमी नहीं आना चाहिए। भंडारण के लिए गोदामों की व्यवस्था की जाए किसानों का एक-एक दाना खरीदा जाएगा। इसके साथ ही किसानों से खरीदे गए गेहूं का निर्यात को बढ़ावा दिया जाए। वहीं नए प्रावधान के साथ गेहूं का उपार्जन करने की सलाह मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने अधिकारियों को दी है।